Wednesday, August 20, 2014

ग़ज़ल और उसकी मर्यादा - 1

दोस्तों ये ब्लॉग ग़ज़ल और उसकी मर्यादाओं को समझने के पर्यास की ओर एक कदम है | ग़ज़ल कहना एक बहुत ही मुश्किल प्रक्रिया है, ऐसा माना जाता है | मैं ग़ज़ल कहने में कोई ज्ञानी  तो नहीं हूँ , मगर इतना आवश्य कहूँगा कि इस मुताल्लक जितनी भी जानकारी मुझ में है उसको आपके साथ शेयर  करने की कोशिश करूंगा | ये ब्लॉग सिर्फ उन सीखने वालों के लिए है जो दिल से ग़ज़ल कहना चाहते हैं | ग़ज़ल के अच्छे जानकारों के लिए ये स्थान उपयुक्त नहीं है बल्कि वो अपनी कलम का ज्ञान यहाँ ज़रूर शेयर कर सकते हैं |